News

TMC MP Mahua Moitra Scandal Impact, New Guidelines For MP – महुआ मोइत्रा कांड का असर : सांसदों के लिए नए दिशा-निर्देश, गोपनीयता रखें, लॉग इन साझा न करें

तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा घूसकांड (Mahua Moitra)के बाद सांसदों के लिए दिशा निर्देश जारी हुए हैं. लोकसभा पोर्टल का इस्तेमाल सिर्फ़ सांसद करेंगे. लॉग इन को साझा नहीं कर सकते. इसके साथ ही गोपनीयता बनाए रखने को कहा गया है. बता दें कि पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के आरोप से घिरी टीएमसी महुआ मोइत्रा ने माना है कि उन्होंने लोकसभा पोर्टल का लॉग इन और पासवर्ड दर्शन हीरानंदानी के साथ साझा किया था जो उनकी तरफ़ से सवाल पूछते थे. अब इसकी जांच जारी है, लेकिन नए सत्र के लिए लोकसभा में दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं. 

यह भी पढ़ें

सांसदों के लिए दिशा निर्देश

  • सिर्फ़ सांसद करेंगे लोकसभा पोर्टल का इस्तेमाल
  •  लोकसभा पोर्टल के लॉग इन को साझा नहीं किया जा सकता
  •  सांसदों से गोपनीयता बनाए रखने को कहा गया है
  • उन्हें सलाह दी गई है कि वो प्रश्नकाल तक सवालों के उत्तर साझा न करें

सीएम ममता बनर्जी ने लगाए आरोप

 सीएम ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि महुआ मोइत्रा को लोकसभा से निष्कासित करने की योजना बनाई जा रही है. लेकिन अगर ऐसा होता है तो ये महुआ के लिए 2024 के चुनाव से पहले फायदेमंद ही रहेगा. ममता बनर्जी ने ये बातें कोलकाता में एक इवेंट में कही. हालांकि, इस इवेंट के दौरान ममता बनर्जी ने महुआ मोइत्रा द्वारा घूस लेकर सवाल पूछने पर कोई टिप्पणी नहीं की है.  बता दें कि कुछ दिन पहले ही रिश्वत लेकर संसद में सवाल पूछने  के आरोपों में घिरीं तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सांसद महुआ मोइत्रा   को उनकी पार्टी ने नई जिम्मेदारी दी है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने मोइत्रा को कृष्णानगर (नदिया नॉर्थ) जिले का पार्टी अध्यक्ष नियुक्त किया है

एमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने इस नई जिम्मेदारी के लिए पार्टी प्रमुख और सीएम ममता बनर्जी का शुक्रिया अदा भी किया था. महुआ मोइत्रा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट किया, “मुझे कृष्णानगर (नादिया उत्तर) का जिला अध्यक्ष नियुक्त करने के लिएममता दीदी और तृणमूल कांग्रेस को धन्यवाद. मैं कृष्णानगर के लोगों के लिए पार्टी के साथ हमेशा काम करूंगी.”

एथिक्स कमेटी ने पहले ही सौंपी रिपोर्ट

 रिश्वत लेकर संसद में सवाल पूछने के मामले में महुआ के खिलाफ पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी (Ethics Committee)ने जांच पूरी करने के बाद रिपोर्ट 10 नवंबर को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) को भेज दी थी. अब स्पीकर इस मामले में आगे क्या एक्शन हो, इसका फैसला लेंगे.

बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लगाए थे आरोप

बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने 15 अक्टूबर को लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को चिट्ठी लिखी थी. इसमें उन्होंने आरोप लगाए थे कि महुआ ने संसद में सवाल पूछने के लिए बिजनेसमैन दर्शन हीरानंदानी से पैसे और तोहफे लिए थे. दुबे ने महुआ के एक्स पार्टनर और वकील जय अनंत देहद्राई की लिखी चिट्ठी को आधार बनाकर ये आरोप लगाए थे. 


Source link

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पिछले साल रिलीज़ हुयी कुछ बेहतरीन फिल्मे जिनको जरूर देखना चाहिए | Best Movies 2022 Bollywood इस राज्य में क्यों नहीं रिलीज़ हुयी AVTAR 2 QATAR VS ECUADOR : FIFA WORLD CUP 2022 Fifa world cup 2022 Qatar | Teams, Matches , Schedule This halloween hollywood scare you with thses movies