News

Mamata Banerjee Proposed Mallikarjun Kharge As The Face Of The Prime Minister In The INDIA Alliance Meeting Sources – ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री के लिए खरगे के नाम का दिया प्रस्ताव, कांग्रेस अध्यक्ष बोले- जीत के बाद करेंगे तय


खरगे ने PM उम्मीदवार बनने से किया इनकार

हालांकि, मल्लिकार्जुन खरगे ने विनम्रतापूर्वक INDIA अलायंस का चेहरा बनने से मना कर दिया है. उन्होंने कहा कि वह सिर्फ वंचितों के लिए काम करना चाहते हैं. खरगे ने कहा कि पहले चुनाव जीतकर आएंगे, उसके बाद पीएम उम्मीदवार तय करेंगे. सूत्रों के मुताबिक, दलित चेहरा होने की वजह से खरगे का नाम पीएम उम्मीदवार के लिए आगे बढ़ाया गया है. हालांकि, सूत्रों के मुताबिक, खरगे के नाम पर अभी अंतिम सहमति नहीं बन पाई है.

सीट  शेयरिंग के लिए 31 दिसंबर की डेडलाइन

इसके साथ ही INDIA अलायंस की मीटिंग में सीट शेयरिंग फॉर्मूले, अलायंस के कोऑर्डिनेटर, चुनावी एजेंडा और चुनावी मुद्दे समेत इलेक्शन मैनेजमेंट को लेकर चर्चा हुई. सूत्रों के मुताबिक, सीट शेयरिंग को लेकर डिटेल चर्चा तो हुई, मगर आज की मीटिंग में कुछ फाइनल नहीं हो पाया. सूत्रों के मुताबिक, टीएमसी समेत INDIA अलायंस के कई दलों ने सीट शेयरिंग के लिए 31 दिसंबर की डेडलाइन रखी है.

सीट शेयरिंग को लेकर कांग्रेस के सीनियर नेता जयराम रमेश ने कहा, “हम मिल कर काम करेंगे. राज्यों में हमारे लोग हैं, वो इसपर मिलकर बात करेंगे. अगर राज्यों में बात नहीं बनेगी, तो INDIA गठबंधन में हम बात करेंगे. सभी राज्यों में मुद्दा सुलझाया जाएगा.”


 

खरगे ने दी मीटिंग की ब्रीफिंग

 मल्लिकार्जुन खरगे ने INDIA अलायंस की मीटिंग खत्म होने के बाद मीडिया को ब्रीफिंग दी. उन्होंने बताया कि चौथी मीटिंग में 28 पार्टियों ने हिस्सा लिया. नेताओं ने अपने विचार गठबंधन के सामने रखे. लोगों के हित में सब मिलकर किस ढंग से अपने को काम करना है या जो भी शुरू से मुद्दे को उठाना है, इसपर चर्चा हुई. देश में कम से कम 8-10 मीटिंग करने का फैसला हुआ. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार में देश की संसद से सांसदों को निलंबित किया जा रहा है. यह अलोकतांत्रिक है. इसके लिए सबको मिलकर लड़ना होगा जिसके लिए हम तैयार हैं. 22 दिसंबर को देशभर में विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा. हालांकि, खरगे ने पीएम उम्मीदवार को लेकर उनके नाम के प्रस्ताव पर कोई बयान नहीं दिया.

मीटिंग में उठा विपक्षी सांसदों के निलंबन का मुद्दा

INDIA गठबंधन की बैठक में सांसदों के निलंबन का मुद्दा भी उठाया गया है. यह सुझाव दिया गया है कि विपक्ष इस मुद्दे पर एकजुट होकर लड़ेगा. कुल 141 सांसदों के सस्पेंशन के बाद लोकसभा में विपक्ष के 102, राज्यसभा में विपक्ष के 94 सांसद बचे हैं. 

 

दिल्ली के अशोका होटल में हुई इस मीटिंग में कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे शामिल हुए. इस बैठक में सपा नेता अखिलेश यादव, दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश, फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और RLD से जयंत चौधरी भी मौजूद रहे.

सभी पार्टियां मैदान में उतरने को तैयार- अखिलेश यादव

INDIA अलायंस की बैठक के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, “… सभी पार्टियां मैदान में उतरने को तैयार हैं. जल्द ही टिकट बंटवारे की प्रक्रिया शुरू होगी. मैंने पहले दिन से कहा है कि INDIA अलायंस की रणनीति PDA होगी. हम उन्हें हराएंगे…”  हालांकि, पीएम फेस के सवाल पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने चुप्पी साध ली.

20 दिनों के भीतर शुरू होगा काम- RJD सांसद मनोज झा

INDIA अलायंस की बैठक के बाद आरजेडी सांसद मनोज झा ने कहा, “चर्चा स्पष्ट रूप से हुई. सीट-शेयरिंग, जन संपर्क कार्यक्रम – ये सब 20 दिनों के भीतर शुरू हो जाएगा… सभी फैसले 3 सप्ताह के अंदर लिए जाएंगे.”

कांग्रेस ने बनाई नेशनल अलायंस कमेटी

INDIA अलायंस की बैठक से पहले कांग्रेस ने 2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 5 सदस्यों की नेशनल अलायंस कमेटी बनाई. अशोक गहलोत, भूपेश बघेल, सलमान खुर्शीद और मोहन प्रकाश को कमेटी के सदस्य हैं. मुकुल वासनिक को कमेटी का कंविनर बनाया गया है. 

INDIA अलायंस की पहले की 3 बैठकों के बारे में जानिए

INDIA अलायंस की इससे पहले तीन बार मीटिंग हो चुकी है. विपक्षी गठबंधन की पहली बैठक पटना में हुई थी. इस बैठक की अगुआई बिहार के CM नीतीश कुमार ने की थी. इसमें विपक्ष के 15 दल शामिल हुए थे. 

INDIA अलायंस की दूसरी बैठक 17-18 जुलाई को बेंगलुरु में हुई थी. 2024 के आम चुनाव में बीजेपी को हराने के लिए विपक्ष के 26 दल एक साथ आए. इस बैठक में विपक्षी दलों के गठबंधन का नाम INDIA तय किया गया था. इसका फुल फॉर्म इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस है. ये नाम ममता बनर्जी ने सुझाया था. राहुल गांधी ने इसका समर्थन किया था. हालांकि, नीतीश कुमार ने अलायंस के नाम पर आपत्ति जताई थी.

विपक्षी गठबंधन की तीसरी बैठक मुंबई में 31 अगस्त-1 सितंबर को हुई. इस मीटिंग में अलायंस ने 5 कमेटियों कैंपेन कमेटी, कोऑर्डिनेशन/स्ट्रैटजी कमेटी, मीडिया, सोशल मीडिया और रिसर्च कमेटी का ऐलान किया था. इस बैठक में 28 विपक्षी दल शामिल हुए थे.

ये भी पढ़ें:-

लोकसभा में दो-तिहाई विपक्षी सांसद सस्पेंड, गृहमंत्री अमित शाह ने पेश किए 3 क्रिमिनल लॉ बिल

संसद सत्र : लोकसभा से आज विपक्ष के 49 सांसद निलंबित, शीत सत्र में अब तक 141 सांसद हो चुके हैं सस्पेंड

“पहली बार तख्ती लेकर गया था…”: लोकसभा में सस्पेंशन से पहले ही शशि थरूर ने कर दी थी भविष्यवाणी




Source link

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पिछले साल रिलीज़ हुयी कुछ बेहतरीन फिल्मे जिनको जरूर देखना चाहिए | Best Movies 2022 Bollywood इस राज्य में क्यों नहीं रिलीज़ हुयी AVTAR 2 QATAR VS ECUADOR : FIFA WORLD CUP 2022 Fifa world cup 2022 Qatar | Teams, Matches , Schedule This halloween hollywood scare you with thses movies