News

MP News : Madhya Pradesh CM Mohan Yadav Met Union Ministers, Also Met BJP National President, Know What Is The Reason?

मध्य प्रदेश के CM मोहन यादव ने केंद्रीय मंत्रियों की मुलाकात, BJP राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी हुई भेंट, जानिए क्या है वजह?

Madhya Pradesh Latest News : मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister of Madhya Pradesh) डॉ मोहन यादव (Dr Mohan Yadav) इन दिनों जैसे ही दिल्ली प्रवास पर जाते हैं, वैसे ही मध्य प्रदेश के मंत्रियों के विभागों को लेकर चर्चा गरमा जाती है. मध्य प्रदेश में कैबनेट विस्तार (MP Cabinet Expansion) के बाद ही विभागों के बंटवारे की खबर चर्चा में बनी हुई है. शुक्रवार को जब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने केंद्रीय मंत्रियों के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा (National President BJP JP Nadda) से भी मुलाकात की है. इस दौरे को लेकर जहां एक ओर कहा जा रहा है कि सीएम ने दिल्ली में हाई कमान से मध्य प्रदेश नए मंत्रियों के विभागों को लेकर लंबी चर्चा की है और मंत्रियों के विभागों के आवंटन को लेकर सहमति बन गई है. वहीं दूसरी ओर सीएम की तरफ से कहा गया है कि वे साइबर तहसील व्यवस्था (Cyber Tehsil System) के लोकार्पण के लिए केंद्रीय मंत्री अमित शाह को आमंत्रित किया है. 

 पहले देखिए सीएम ने दिल्ली में किस-किस से मुलाकात की

यह भी पढ़ें

सीएम डॉ मोहन यादव ने पहले केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह (Union Home and Cooperatives Minister Amit Shah) के नई दिल्ली स्थित उनके निवास पर भेंट की. इसके लेकर सीएम ने जानकारी दी है कि उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को आगामी 1 जनवरी 2024 को मध्यप्रदेश में साइबर तहसील व्यवस्था लोकार्पित करने के लिए आमंत्रित किया है.

डॉ मोहन यादव ने खुद के सोशल मीडिया अकाउंट से पोस्ट करते हुए लिखा है कि आज नई दिल्ली में माननीय केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह से सौजन्य भेंट कर प्रदेश के विकास तथा जनकल्याण से संबंधित विभिन्न विषयों पर सार्थक चर्चा की.

हरदीप पुरी ने मोदी की गारंटी का किया जिक्र

गृहमंत्री अमित शाह के बाद डॉ मोहन यादव ने केंद्रीय आवासन और शहरी कार्य तथा पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप पुरी से उनके निवास पर सौजन्य भेंट कर विभिन्न विषयों पर सार्थक चर्चा की. मुख्यमंत्री डॉ. यादव की केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी से कार्यभार ग्रहण करने के बाद यह पहली मुलाकात थी. मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Aawas) जैसी आवासन और शहरी कार्य योजनाओं में प्रदेश उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहा है. उन्होंने आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नेतृत्व में प्रदेश के स्थानीय निकाय और अधिक प्रगति करेंगे. केंद्रीय मंत्री श्री पुरी ने अपने मंत्रालय से संबंधित सभी प्रकरणों में राज्य सरकार को हरसंभव सहायता देने के आश्वासन दिया.

इस मुलाकात को लेकर केंद्रीय मंत्री ने लिखा है कि “मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव से सौजन्य भेंट कर उन्हें पदभार संभालने पर बधाई दी और प्रदेश में माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शहरी विकास तथा जनकल्याण की दूरदर्शी योजनाओं और ऊर्जा एवं हरित ऊर्जा क्षेत्र की परियोजनाओं से संबंधित विषयों पर चर्चा की ताकि मध्य प्रदेश के हमारे भाईयों बहनों को मोदी की गारंटी (Modi Ki Guarantee) के साथ विकास का लाभ मिलता रहे.”

नड्‌डा से लिया मार्गदशर्न

केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात करने के बाद मुख्यमंत्री मोहन यादव नई दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से भेंट कर उनका मार्गदर्शन प्राप्त किया. 

साइबर तहसील सिस्टम क्या है?

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बताया कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की प्रदेश की जनता को दी गयी संकल्प-पत्र 23 की गारंटियों की पूर्ति के लिए राज्य सरकार दृढ़ संकल्पित है. इसी क्रम में राज्य सरकार ने 1 जनवरी, 2024 से पूरे प्रदेश में साइबर तहसील की अवधारणा लागू करने का निर्णय लिया है.

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने जानकारी दी कि साइबर तहसील व्यवस्था में आधुनिक तकनीक के उपयोग से बिना पृथक से आवेदन दिए पारदर्शी तरीके से रजिस्ट्री के 15 दिन की समय-सीमा में क्रेता के पक्ष में नामांतरण किया जा सकेगा और खसरा-नक्शा में भी तत्काल सुधार किया जा सकेगा. प्रथम चरण में इस प्रक्रिया को केवल ऐसे अविवादित प्रकरणों में लागू किया जा रहा है जहां विक्रय पूरे खसरे का है. बाद में इसे सभी प्रकार के अविवादित नामांतरण और बंटवारे में लागू किया जाएगा. साइबर तहसील के माध्यम से ऑनलाइन, पेपरलेस और फ़ेसलेस प्रक्रिया से नामांतरण होने से प्रदेश शासन ‘सुशासन से सुराज’ की दिशा में आगे बढ़ेगा.

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने केंद्रीय मंत्री अमित शाह को नववर्ष में प्रदेश को अपनी उपस्थिति से अनुग्रहित करने और पूरे प्रदेश में साइबर तहसील व्यवस्था लोकार्पित करने का अनुरोध किया, जिसे केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने सहर्ष स्वीकार किया है.

यह भी पढ़ें : “समृद्ध विरासत के संरक्षण के लिए दृढ़ संकल्प…”: अयोध्या दौरे से पहले पीएम मोदी




Source link

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पिछले साल रिलीज़ हुयी कुछ बेहतरीन फिल्मे जिनको जरूर देखना चाहिए | Best Movies 2022 Bollywood इस राज्य में क्यों नहीं रिलीज़ हुयी AVTAR 2 QATAR VS ECUADOR : FIFA WORLD CUP 2022 Fifa world cup 2022 Qatar | Teams, Matches , Schedule This halloween hollywood scare you with thses movies